लेबनान की राजधानी बेरुत मंगलवार को दो धमाकों के बाद दहल गई। इन धमाकों में 113 लोगों की मौत हुई है और हजारों की संख्या में लोग घायल हुए हैं। एक विस्फोट की गूंज निकोसिया शहर में सुनी गई। निकोसिया साइप्रेस की राजधानी है, जो विस्फोट वाले स्थल से 240 किलोमीटर दूर है। यह विस्फोट 3.3 तीव्रता के भूकंप के बराबर दर्ज किया गया है।

लेबनान हादसे में धमाके के दौरान एक घरेलू सहायिका द्वारा छोटी बच्ची को बचाने का वीडियो सामने आया है। वीडियो में धमाके के दौरान सहायिका अपनी परवाह किये बिना बच्ची को गोद में उठा कर भागते हुए दिखाई दे रही है। वीडियो घर में लगे कैमरे में रिकॉर्ड हुआ है। वीडियो वायरल होने के बाद से सहायिका की बहुत तारीफ की जा रही है।

वीडियो में एक घरेलू सहायिका घर में सफाई करती हुई दिखाई दे रही और उसके ही पास एक छोटी बच्ची खेल रही है। सफाई करने के दौरान सहायिका को बाहर कुछ हलचल दिखाई देता है तभी दूसरे विस्फोट से उनके घर की खिड़कियों पर लगे कांच टूटते हुए दिख रहे है और सहायिका बच्ची को लेकर अंदर की और भागती नजर आ रही है।

देखे विडियो :

बेरुत में एक के बाद एक कुल दो धमाके हुए हैं। दूसरे धमाके के बाद आसमान में आग का एक गुबार देखा गया और इसके तुरंत बाद टोरनेडो जैसा झटका महसूस किया गया। जिसने बंदरगाह को तबाह कर दिया और शहर भर की खिड़कियों को चकनाचूर कर दिया।

EDITORS NOTE: Graphic content / A helicopter puts out a fire at the scene of an explosion at the port of Lebanon’s capital Beirut on August 4, 2020. (Photo by STR / AFP) (Photo by STR/AFP via Getty Images)

लेबनान के प्रधानमंत्री हसन दियाब ने कहा कि बेरुत बंदरगाह के वेयरहाउस में करीब 2750 टन अमोनियम नाइट्रेट रखा हुआ था, जिसमें मंगलवार को विस्फोट हो गया, जिसके चलते बेरुत के बड़े हिस्से को नुकसान पहुंचा है। प्रधानमंत्री ने इसकी जाँच के लिए कैबिनेट की बैठक की है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here