सऊदी अरब सरकार ने किसी भी नौकरी में प्रवासियों की भर्ती पर सख्त नियम बना दिए हैं। जिससे उन्हें हर तरह के ऑनलाइन काम जैसे फॉर्म वगैरा भरने में बड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। सऊदी के श्रम और सामाजिक विकास मंत्रालय द्वारा श्रम अनुबंधों के ऑनलाइन प्रलेखन के लिए एक कार्यक्रम की हाल ही में मंजूरी ने कई भर्ती कंपनियों के बीच बेचैनी पैदा कर दी है। जिससे सारे प्रवासी परेशां होकर इधर उधर भटक रहे हैं।

सूत्रों और सुरक्षा रिपोर्ट के मुताबिक, मिली जानकारी से पता चला कि कार्यक्रम के अनुसार, जो जुलाई 1 से लागू होने के लिए तैयार है, यह कंपनियों और प्रतिष्ठानों के मालिकों के लिए अनिवार्य है कि वे मुसनाईद ऑनलाइन सेवा के माध्यम से किसी भी नए अनुबंध पर हस्ताक्षर करें जो ग्राहकों के साथ इलेक्ट्रॉनिक रूप से प्रलेखित हो। मंत्रालय ने कार्यालयों और कंपनियों को अनुबंध अवधि के भीतर भर्ती किए गए घरेलू श्रमिकों को प्राप्त करने और समायोजित करने के लिए भी अनिवार्य बना दिया है।

आपको बता दे कि सऊदी मंत्रालय ने इस बात पर भी जोर दिया है कि कार्यक्रम के बाहर निष्पादित घरेलू श्रमिकों की भर्ती के किसी भी अनुबंध को अमान्य माना जाएगा। जैसा कि नए कार्यक्रम के कार्यान्वयन की तारीख निकट है, भर्ती कार्यालयों के सूत्रों का दावा है कि मंत्रालय ने भर्ती कार्यालयों पर पूरे 30 % जुर्माना लगाया है, इस शर्त का पालन नहीं करने के लिए कि अनुबंध पर हस्ताक्षर किए जाने के 90 दिनों के अंदर घरेलू श्रमिकों को पहुंचना चाहिए। अशरकिया चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री में भर्ती समिति के अध्यक्ष हुसैन अल-मुतैरी ने श्रमिकों के आवास पर मंत्रालय के फैसले को सही बताया है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here