क़तर अरब लीग में आज कल त’ना/व पैदा हो गया है. बता दे कि कुछ दिन पहले ही लीबिया में सै/न्य का’र्रवा’ई को लेकर ब/वाल हुआ था. अरब लीग ने लीबिया में “विदेशी ह’स्तक्षेप को रो/कने” के कोशिशों का आह्वान किया है। तो दूसरी और तुर्की ने रा’ज’नयिक साधनों के माध्यम से लीबिया सं’कट का समाधान संभव है.

बता दे कि अरब लीग ने “सै/न्य वृद्धि पर चिं/ता ज़ाहिर की है और कहा कि यह प’ड़ोसी देशों और पूरे क्षेत्र की सुरक्षा और स्थिरता को ख/त’रा है”। वहीं लीबिया की राष्ट्रीय सेना, “विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हामी अकोसी ने मंगलवार को एक बयान में कहा, “लीबिया के रा’जनीतिक स’मझौते और UNSC के प्रस्ताव 2259 के विपरीत, यह साफ़ है कि अरब लीग चु’प रही है और त्रिपोली, राजधानी शहर के खि/ला’फ विदेशी समर्थित सै/न्य आ/क्र’मण के खि/लाफ अं/तर्रा’ष्ट्री’य वै/धता का सपोर्ट नहीं कर पायी है.

UN सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव 2259 का समर्थन करता है और लीबिया के सिर्फ वै/ध प्रतिनिधि की तरह प्रधान मंत्री फ़ैज़ अल-सरराज के नेतृत्व में नेशनल एकॉर्ड (GNA) की सरकार को समर्थन और मजबूत करने का इरादा रखता है और सभी UN सदस्यों से इस तरीके से कार्य करने का आह्वान करता है। लीबिया के UN मान्यता प्राप्त GNA एक ऐसे समूह की आ/क्रा’मकता के खि/लाफ ल/ड़ रहा है , जिसका नेतृत्व लीबिया के ता/नाशा’ह खलीफा ह’फ्तार करते हैं।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here