कुवैत देश में कुवैत निवासियों की वापसी 3 चरणों के तहत होने वाली है. जिसके दौरान दिए जाने वाली प्राथमिकता राज्य की जरूरतों के हिसाब से है. ताकि सभी देश से लौटने वाले लोगों की भा’री संख्या में एयरपोर्ट पर भी’ड़ न लगे.

सूत्रों से मिली जानकारी में पता चला कि पहले चरण में डॉ’क्टर, न’र्स, जज, पब्लिक प्रॉसिक्यूशन ऑफिस के सदस्य और शिक्षक शामिल होंगे. क्यूंकि देश को उनकी ज़रूरत है. यह देखते हुए कि अभी इनकी संख्या के लिए इनवेंटरी प्रक्रिया चल रही है.

आंतरिक मंत्रालय ने विदेश मंत्रालय से प्राप्त एक आधिकारिक पत्र के जवाब में कहा कि इसमें उन श्रेणियों के लिए अनुरोध किया गया है, जिन्हें देश में प्रवेश करने की अनुमति है और जिनके पास वै’ध निवास है.

3 चरण

जो प्रवेश प्रक्रिया है 3 चरणों में होना चाहिए, जिसमें प्राथमिकता उन लोगों को दी जायेगी जो कुवैत देश को चाहिए. जैसे कि डॉ’क्टर न’र्स, न्यायाधीश, अभियोजक और शिक्षक इसके पहले चरण में शामिल हैं.

आंतरिक मंत्रालय के दूसरे चरण में उन लोगों को शामिल किया गया है जिनके परिवार कुवैत देश में रहते हैं. और जिन लोगों के निवास क्षेत्र अनुच्छेद 22 (एक परिवार में शामिल होते हैं) के मुताबिक परमिट या उन परिवारों के प्रमुख जो अनुच्छेद 18 और उनकी पत्नियों के अनुसार रेजिडेंसी परमिट रखते हैं. जबकि तीसरा चरण शेष निवास सामग्री के लिए होगा.

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here